नेहा बग्गा

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश प्रवक्ता सुश्री नेहा बग्गा ने भाजपा नेत्री श्रीमती हेमा मालिनी और श्रीमती स्मृति ईरानी के संबंध में कांग्रेस नेता अरूण यादव द्वारा की गई टिप्पणी की निंदा करते हुए इसे कांग्रेस की विकृत मानसिकता का प्रतीक बताया है। सुश्री नेहा बग्गा ने कहा कि कांग्रेस नेताओं के बयान उनके पार्टी के संस्कारों को उजागर करते हैं।

प्रदेश प्रवक्ता सुश्री बग्गा ने कहा कि वरिष्ठ नेत्री प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के चुनाव में यह नारा देती हैं कि ‘‘मैं लड़की हॅू, लड़ सकती हॅू’’ लेकिन जब मीडिया उनसे उज्जैन जिले के कांग्रेस विधायक श्री मुरली मोरवाल के बेटे द्वारा कांग्रेस नेत्री के साथ किए गए अनाचार को लेकर सवाल करते हैं, तो वह चुप्पी साध लेती हैं। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी सिर्फ महिला हित की बात करती हैं, लेकिन उनकी ही पार्टी की महिला कार्यकर्ता के साथ दुराचार होता है, तब उनके मुंह में दही जम जाता है।

सुश्री बग्गा ने प्रियंका गांधी से सवाल किया कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह महिला सांसद को टंच माल कहते हैं, वहीं टिकट वितरण के समय कमलनाथ जी महिला कार्यकर्ताओं को सजावटी वस्तु कहते हैं, तब आप चुप्पी क्यों साध लेती हैं? श्रीमती प्रियंका गांधी को यह जवाब देना चाहिए कि कमलनाथ जी जब वरिष्ठ महिला नेत्री को आइटम कहते हैं तब आप मौन क्यों धारण कर लेती हैं? क्या कांग्रेस में महिला नेत्रियों को सिर्फ झंडा उठाने के लिए रखा गया है। सुश्री बग्गा ने कहा कि देश की जनता ने कांग्रेस की महिला नेत्रियों पर उनके ही दल के नेताओं द्वारा अत्याचार होते हुए देखा है। चाहे नैना साहनी हत्याकांड हो,  सरला मिश्रा हत्याकांड हो,  या फिर सुकन्या देवी का मामला हो, कांग्रेस नेताओं द्वारा किए गए अत्याचारों को जनता नहीं भूली है।

(लोकेन्द्र पाराशर)
प्रदेश मीडिया प्रभारी