क्या हुआ बदलाव

बता दें कि जैसे PF खातों पर ब्याजको नहीं छेड़ा गया है। वैसे ही राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) जैसी लघु बचत योजनाओं पर 2021-22 की तीसरी तिमाही के लिये ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है। एनएससी पर सालाना ब्याज दर भी 6.8 फीसद बनी रहेगी।

Small Saving Schemes पर ब्याज दरें

फाइनेंस मिनिस्ट्री ने नोटिफिकेशन में बताया था कि Small Saving Schemes पर ब्याज दरें 2021-22 की तीसरी तिमाही के लिये वहीं रहेंगी। इसी तरह 5 साल की Senior Citizen Saving Scheme पर ब्याज दर 7.4 प्रतिशत पर बरकरार है। वरिष्ठ नागरिक बचत योजना के तहत ब्याज तिमाही आधार पर मिलता है। बचत जमा पर ब्याज 4 प्रतिशत मिलेगा। 1 साल से 5 साल के लिए मियादी जमाओं पर ब्याज दरें 5.5 से 6.7 प्रतिशत होंगी। जबकि 5 साल की आवर्ती जमा पर ब्याज 5.8 प्रतिशत होगा।